गढ़वाली फिल्म का टोरेंटो मल्टीकल्चरल फिल्म फेस्टिवल के लिए चयन

गढ़ रत्न नरेंद्र सिंह नेगी ने अपने आधिकारिक फेसबुक पेज से यह जानकारी साझा करते हुए लिखा कि "आप सभी दोस्तों का धन्यवाद और आभार। 'बोल दियां ऊंमा' फिल्म की समस्त टीम को बहुत बहुत बधाई। इस फिल्म का चयन 4th टोरेंटो मल्टीकल्चरल फिल्म फेस्टिवल में हो गया है"।
 | 
फोटो क्रेडिट: फेसबुक
प्रसिद्ध लोकगायक नरेंद्र सिंह नेगी के पर्यवेक्षण में बनाई गई फिल्म 'बोल दियां ऊंमा निर्देशन नेगी जी के पुत्र कविलाश ने किया है, अंजली नेगी और राजेश नौगांई फिल्म में मुख्य किरदार हैं। यह गढ़वाली लघु फिल्म साहित्यकार बल्लभ डोभाल की कहानी पर बनी है। गढ़रत्न नरेंद्र सिंह नेगी ने अपने आधिकारिक फेसबुक पेज से यह जानकारी साझा करते हुए लिखा कि "आप सभी दोस्तों का धन्यवाद और आभार। 'बोल दियां ऊंमा' फिल्म की समस्त टीम को बहुत बहुत बधाई। इस फिल्म का चयन 4th टोरेंटो मल्टीकल्चरल फिल्म फेस्टिवल में हो गया है"।
यह फिल्म 'नरेंद्र सिंह नेगी ऑफिशियल' यूट्यूब चैनल पर 11अगस्त 2021 को रिलीज हुई थी। फिल्म की कहानी प्रसिद्ध लोकगायक नरेंद्र सिंह नेगी के पर्यवेक्षण में बनाई गई फिल्म 'बोल दियां ऊंमा' का 4th टोरेंटो मल्टीकल्चरल फिल्म फेस्टिवल के लिए चयन हुआ है। इस फिल्म का निर्देशन नेगी जी के पुत्र कविलाश ने किया है, अंजली नेगी और राजेश नौगांई फिल्म में मुख्य किरदार हैं। यह गढ़वाली लघु फिल्म साहित्यकार बल्लभ डोभाल की कहानी पर बनी है। फिल्म की कहानी में बहुत ही मार्मिक संवाद दिखाया गया है जो की पहाड़ में अकेले जीवन बिता रही औरत (जिसका पति परदेस में नौकरी करता है) और पात्र बद्री (जो की गांव से शहर जाने के वाली आखिरी बस को पकड़ने के लिए पैदल रास्ते पर चल रहा है) के बीच फिल्माया गया है। 
इस फिल्म को सोशल मीडिया पर बहुत सराहा गया था लेकिन अब विश्वस्तरीय मंच पर इसका प्रदर्शन होने पर देश-दुनिया के लोगों को उत्तराखंड और यहां के परिवेश के बारे में जानने का मौका मिलेगा। यहां की जिंदगी और लोगों के संघर्ष के बारे में पता चलेगा।