आखिर क्यों इंग्लैंड के बल्लेबाज स्पिनर्स को खेलते समय भी हेलमेट का इस्तेमाल करते हैं

श्रृंखला में भारत का 2-1 से आगे होने के बाद भी भारत को विजेता घोषित क्यों नहीं किया गया?

 | 
हाल ही में भारत और इंग्लैंड के बीच चल रही क्रिकेट टेस्ट श्रृंखला में भारत 2-1 की बढ़त बनाए हुए था । परंतु पांचवां और अंतिम मैच टॉस होने से पहले ही रद्द हो गया, क्योंकि भारत के सहायक फिजियो योगेश परमार कोविड 19 परीक्षण में संक्रमित पाए गए। जिससे संक्रमण के फैलने के खतरे से भारतीय खिलाड़ी मैदान में ही नहीं उतरे। इसमें मुख्य कारण 19 सितंबर से शुरू होने वाला आईपीएल को भी माना जा रहा है, क्योंकि कोई भी खिलाड़ी संक्रमित हो जाने पर 10 दिन के एकांतवास में रहने का जोखिम नहीं उठाना चाहेगा।
इस से पहले हुए चारों मैचों में इंग्लैंड के किसी भी खिलाड़ी ने भारतीय स्पिनर्स को खेलने के लिए कैप का इस्तेमाल नहीं किया और हेलमेट पहनकर ही खेलते रहे। लेकिन विराट कोहली सहित अधिकतर भारतीय बल्लेबाजों ने इंग्लैंड के स्पिनर्स को खेलते समय अपने हेलमेट को उतार कर कैप को पहना। इंग्लैंड के खिलाड़ियों का कैप पहनकर स्पिनर को खेलने के पीछे यह कारण है कि इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ई सी बी) अपने खिलाड़ियों की सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए उन्हें बल्लेबाजी करते हुए कैप पहने की इजाजत नहीं देता है और उन्हें मजबूरन हेलमेट पहन कर खेलना पड़ता है।
हालांकि भारत २-१ से आगे जरूर है लेकिन उसे विजेता घोषित नहीं किया गया क्योंकि भविष्य में इस टेस्ट क्रिकेट श्रृंखलापांचवें मैच के होने के कयास लगाए जा रहे हैं ।